गौरव यात्रा का किया जगह-जगह स्वागत, 36 ग्राम पंचायतों की झांकियां हुई शामिल

माणकमल भण्डारी @ अर्थ न्यूज नेटवर्क


भीनमाल. स्वच्छ भारत मिशन अभियान के तहत पंचायत समिति भीनमाल की 36 ग्राम पंचायतों के खुले में शौच से मुक्त होने पर बुधवार को शहर में गौरव यात्रा का आयोजन किया गया।

 

पंचायत समिति के तत्वावधान में शहर के प्रसिद्ध नीमगोरिया क्षेत्रपाल मंदिर से भव्य गौरवयात्रा निकाली गई। शोभायात्रा में हाथी, घोड़े, बैंड, नगाड़े, ढोल, थाली तथा नृत्य करते हुए गैरिए आकर्षक वेशभूषा में लोगों का मनमोह रह रहे थे। गौरवयात्रा में जिला कलेक्टर एल.एम. सोनी तथा विधायक पूराराम चौधरी हाथी पर सवार थे। इसी प्रकार घोडे पर प्रधान धुखाराम पुरोहित, रानीवाडा विधायक नारायणसिंह देवल, उपखण्ड अधिकारी दौलतराम चौधरी, विकास अधिकारी राकेश पुरोहित सहित कई अधिकारी घोडे पर सवार होकर गौरवयात्रा की शोभा बढा रहे थे। यात्रा में भीनमाल पंचायत समिति की सभी 36 ग्राम पंचायतों की विभिन्न विषयों को लेकर आकर्षक झांकियां भी साथ चल रही थी। गौरवयात्रा का नागरिकों द्वारा जगह-जगह स्वागत किया गया।

 

गौरवयात्रा नीमगोरिया क्षेत्रपाल मंदिर से प्रारंभ होकर जुंजाणी बस स्टैण्ड, हाईस्कूल, महावीर चौराया, खारी रोड होते हुए स्टेडियम में पहुंचकर समारोह में विर्सजित हुई। गौरवयात्रा को जिला प्रमुख बन्नेसिंह गोहिल, जिला कलेक्टर एल.एम.सोनी, विधायक पूराराम चौधरी, रानीवाडा विधायक नारायणसिंह देवल सहित अतिथियों ने हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। गौरवयात्रा के तहत आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए मु य अतिथि जिला प्रमुख बन्नेसिंह गोहिल ने कहा कि ये गर्व की बात है कि जालोर-सिरोही लोकसभा क्षेत्र में भीनमाल पंचायत समिति सर्व प्रथम खुले में शौच से मुक्त होने का गौरव प्राप्त किया, जो सराहनीय है। हमें भी इस बात से सीख लेनी चाहिए कि जालोर जिले की बाकी सभी पंचायत समिति भी इसी प्रकार गौरव प्राप्त करें। जिला कलेक्टर लक्ष्मीनारायण सोनी ने कहा कि जालोर जिले की सभी पंचायत समिति आगामी 31 दिसंबर तक खुले में शौच से मुक्त होने का लक्ष्य निर्धारित किया है उसमें सभी जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों के साथ जनता का साथ सहयोग नितांत आवश्यक है। उन्होंने भीनमाल प्रधान तथा विकास अधिकारी को बधाई देते हुए कहा कि इस आयोजन से उन्होंने जालोर जिले का नाम राज्य में रोशन किया है। विधायक पूराराम चौधरी ने कहा कि सभी ग्राम पंचाय खुले में शौच से मुक्त तो गई है और हमने इसका श्रेय भी प्राप्त किया, मगर अब रोजाना इन शौचालय का उपयोग भी हो ऐसी व्यवस्था होनी चाहिए। रानीवाडा विधायक नारायणसिंह देवल ने कहा कि स्वच्छता ही जीवन है तथा हमें जीवन में स्वच्छता के प्रति जागरूक रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि उत्तरप्रदेश में बनाए गए शौचालय को वहा के मु यमंत्री ने इज्जतघर का नाम दिया है इसी प्रकार हमें भी सभी घरो में इज्जतघर बनाकर अपना गौरव बनाए रखना है। जालोर विधायक अमृता मेघवाल ने स्वच्छता के महत्व की जानकारी देते हुए कहा कि जालोर जिला लोगों की नजरों में बहुत पिछडा हुआ है परंतु भीनमाल पंचायत समिति ने यह गौरव प्राप्त कर जिले का नाम राज्य में अव्वल दर्जे पर ला दिया है। उन्होंने आंगनवाडी कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि प्रत्येक घर में शौचालय निर्मित हो तथा उनका नियमित उपयोग हो। जिला परिषद के मु यकार्यकारी अधिकारी हरिराम मीणा ने कहा कि शौच से मुक्त पंचायत समिति भीनमाल को इसका गौरव प्राप्त हुआ है वह प्रशंसनीय है तथा इससे दूसरों को प्रेरणा लेकर अपनी पंचायत समिति भी ओडीएफ करने में सहयोगी बने। उप जिला प्रमुख गिरधरकंवर ने कहा कि ओडीएफ होने से महिलाओं की विभिन्न समस्याओं का समाधान स्वत: ही हो गया है। उन्होंने सभी कर्मचारियों को इसके लिए बधाई दी। विकास अधिकारी राकेश पुरोहित ने ओडीएफ में विकास यात्रा के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि इस कार्य में सभी के सहयोग से ही यह सफलता मिली है। ओडीएफ होने के बाद गांव की महिलाओं को कई समस्याओं से निजात मिली है। भीनमाल प्रधान धुखाराम राजपुरोहित ने कहा कि भीनमाल पंचायत समिति को ओडीएफ बनाने में सभी ग्रामसेवक, सरपंच की मेहनत रंग लाई है उन्होंने कडी मेहनत कर यह श्रेय दिलाया है। संचालन मीठालाल जांगिड ने किया।

ये रहे उपस्थित

जसवंतपुरा प्रधान पिंकी राजपुरोहित, उप प्रधान किस्तुराराम प्रजापत, जिला परिषद सदस्य मंगलसिंह सिराणा, माधोसिंह घासेडी, पंचायत समिति सदस्य कैलाशपुरी गोस्वामी, रमेश पुरोहित मेडा, पुलिस उप अधीक्षक धीमाराम विश्रोई, तहसीलदार शंकराराम गर्ग, नगरपालिका अधिशाषी अधिकारी भीखाराम जोशी, थानाधिकारी कैलाशचंद्र मीणा, हाजी तय्यब बागवान, शाबिर शेख सहित 36 ग्राम पंचायतों के सरपंच, ग्रामसेवक, सहायक ग्राम सेवक, ग्रामवासी सहित पंचायत समिति के कर्मचारी उपस्थित रहे।

झांकी रही अव्वल

गौरवयात्रा के दौरान भीनमाल पंचायत समिति की सभी 36 ग्राम पंचायतों द्वारा झांकियों का आयोजन किया गया जिसमें बोरटा ग्राम पंचायत की झांकी प्रथम स्थान पर रही। जबकि द्वितीय स्थान पर नरता एवं तृतीय स्थान पर दासपा ग्राम पंचायत की झांकी रही। प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली झांकी को प्रधान एवं विकास अधिकारी की ओर से 3100 रुपए की का नकद पुरस्कार, मोमेन्टो प्रदान किया गया। वहीं द्वितीय स्थान पर रही झांकी को 2100 रुपए व मोमेन्टो तथा तृतीय स्थान पर रहने पर 1100 रुपए का नकद पुरस्कार व मोमेन्टो प्रदान किया गया।

इनका रहा सहयोग

गौरवयात्रा के दौरान पंचायत समिति के सभी ग्राम सेवकों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराकर इसमें सराहनीय सहयोग दिया। इसी प्रकार सरपंच संघ एवं ग्राम सेवकों की ओर से प्रसादी का आयोजन किया गया।

मुख्यालय पर रहेंगे उपस्थित

गौरवयात्रा समारोह के दौरान जिला कलेक्टर एल.एम.सोनी ने कहा कि ग्राम सेवक व पटवारी अपने-अपने ग्राम पंचायत मुख्यालय पर प्रत्येक मंगलवार एवं गुरूवार को आवश्यक रूप से उपस्थित रहकर जनता का कार्य संपादित करेंगे। इस कथन पर ग्राम सेवकों ने हाथ उठाकर अपनी स्वीकृति दी।

झांकियों ने दिया संदेश

गौरवयात्रा के दौरान सभी 36 ग्राम पंचायतों द्वारा निकाली गई झांकिया के दौरान विभिन्न संदेश छुपा हुआ था। इन संदेश में स्वच्छता, इंदिरा आवास योजना तथा सरकार की विभिन्न योजनाओं को प्रदर्शित किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Page generated in 0.871 seconds. Stats plugin by www.blog.ca