लिफ्ट लेने वाला ही निकला जीप का लुटेरा, पुलिस ने दो आरोपियों को धरदबोचा

 सांचौर @ अर्थ न्यूज नेटवर्क


पुलिस ने गत दिनों गरडाली सरहद में जीप लूट प्रकरण का राजफाश करते हुए दो आरोपियों को धरदबोचा। आरोपी ने वारदात को अंजाम देने से पहले जीप में लिफ्ट ली थी। रास्ते में चाय के लिए जैसे ही जीप मालिक व उसके भाई होटल पर उतरे, वह अपने तीन साथियों के साथ जीप को लेकर फरार हो गया। पुलिस ने लूट की साजिश करने वाले मुख्य आरोपी के साथ ही उसे धरदबोचा। जबकि उनके दो साथियों की तलाश जारी है।

 

पुलिस के अनुसार गत पांच अक्टूबर को कासवी (नारोली-गुजरात) निवासी जामता भाई पुत्र रावताभाई मेघवाल ने लिखित रिपोर्ट पेशकर बताया था कि वह अपने गणपतभाई व करसन भाई के साथ ही अपनी जीप में बैठकर पानी निकालने की मशीन खरीदने के लिए गरडाली गए थे। मशीन लेकर रवाना होते समय हमारे साथ बाबूलाल व रमेशभाई भी रवाना हुए। शाम करीब साढ़े छह से सात बजे के बीच हमने गरडाली स्थित चाय की एक थड़ी पर जीप खड़ी की और चाय पीने के लिए उतरे। इस दौरान रमेश पुत्र चैना मेघवाल जीप में ही बैठा हुआ था। कुछ देर बाद जब हम चाय पीकर वापिस लौटी तो जीप के साथ ही रमेश भी गायब था। रिपोर्ट में अज्ञात लोगों की ओर से रमेश का अपहरण करने व जीप को लूटने की आशंका जताई गई थी। घटना की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा के निर्देश पर स्पेशल टीम का गठन किया गया। जिसमें सहायक उप निरीक्षक तेजाराम, कांस्टेबल भंवरसिंह, मीठालाल को शामिल किया गया। टीम ने तकनीकी संसाधनों के माध्यम से लूट वाले स्थान को चिह्नित कर मुखबिरों को सक्रिय किया।

 

जांच के दौरान मियाल (बनासकांठा-गुजरात) निवासी गणेशाभाई पुत्र चमनाभाई मेघवाल के लूट का मुख्य आरोपी होने की बात सामने आई। जिस पर पुलिस ने जाल बिछाकर 8 अक्टूबर को गणेशाभाई को दस्तयाब कर पूछताछ की तो उसने लूट करना कबूल किया। उसने पूछताछ में रमेश पुत्र रामाजीभाई, पोपट भाई व मुकेश भाई के सहयोगी होने की बात की। जिस पर पुलिस टीम ने 10 अक्टूबर को मियाल (बनासकांठा-गुजरात) निवासी रमेश पुत्र रामाजीभाई रेबारी को गिरफ्तार किया। पुलिस ने जीप व मशीन को बरामद कर लिया। जबकि दो आरोपियों की तलाश जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Page generated in 0.727 seconds. Stats plugin by www.blog.ca