पेड़ से लटका मिला छात्र का शव, समाजबंधुओं ने थाने के आगे किया प्रदर्शन

सायला @ अर्थ न्यूज नेटवर्क


कस्बे के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में बारहवीं कक्षा में अध्ययनरत एक छात्र का शव निजी छात्रावास में पेड़ से लटका मिला। हालांकि शव पर किसी तरह के चोट के निशान नहीं मिले हैं, लेकिन परिजनों व समाज के लोगों ने इसे हत्या का मामला बताते हुए बुधवार को पुलिस थाने के सामने प्रदर्शन कर आक्रोश जताया। इस दौरान कुछ समय के लिए रोड पर आवागमन भी प्रभावित हुआ। पुलिस अधिकारियों ने समझाइश करने के साथ ही जांच का आश्वासन देकर यातायात सुचारू करवाया। सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंच शव को नीचे उतरवाया। बाद में परिजनों को इत्तला देने के साथ ही शव को पोस्टमार्टम के लिए सामुदायिक चिकित्सालय रखवाया गया। इधर, घटना की जानकारी फैलते ही बड़ी तादाद में मृतक छात्र के परिजन व समाज के लोग एकत्रित हो गए।

 

 

थाने के आगे जताया आक्रोश

मेडिकल बोर्ड की ओर से पोस्टमार्टम के बाद समाज के लोग व परिजनों ने विक्रम की हत्या की आशंका जताते हुए मामले की जांच व दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। हालांकि पुलिस उप अधीक्षक दुर्गसिंह राजपुरोहित ने समझाइश का प्रयास भी किया, लेकिन परिजन अपनी मांग पर अड़ गए। इस दौरान शव को वाहन रखकर पुलिस थाने के सामने आक्रोश जताया। इससे रोड के दोनों तरफ वाहनों का जाम लग गया। इस दौरान पुलिस उप अधीक्षक व थानाधिकारी की ओर से उचित कार्रवाई का आश्वासन देने पर रास्ता बहाल हो पाया।

शरीर पर नहीं मिले चोट के निशान

पोस्टमार्टम से पहले समाज के लोगों ने शव को देखने की मांग रखी। जिस पर पुलिस उप अधीक्षक दुर्गसिंह राजपुरोहित की मौजूदगी में एडवोकेट दौलतराम, भगवानाराम, सुरेश वाघेला, दानाराम बोस सहित समाज के मौजीज लोगों ने शव का मुआयना किया। लेकिन शव पर किसी भी तरह के चोट के निशान नहीं मिले। हालांकि इसके बाद समाज के लोग पोस्टमार्टम के लिए तो मान गए लेकिन उन्होंने मामले को संदिग्ध बताते हुए मामले की जांच करने की मांग रखी। साथ ही संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ करने की मांग भी रखी।

 

जाम के बाद पड़ाव की चेतावनी

इस बीच, मेघवाल समाज के लोगों व परिजनों ने पुलिस थाने के सामने आक्रोश जताकर मामले की जांच की मांग रखी। साथ ही तीन दिन में मामले की जांच नहीं होने पर जिला मुख्यालय पर पड़ाव डालने की चेतावनी दी। जिस पर पुलिस ने तत्काल छात्रों के बयान दर्ज करने एवं संदिग्धों से पूछताछ पर सहमति जताई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Page generated in 0.690 seconds. Stats plugin by www.blog.ca