धरे गए कोख के कातिल : राज्य पीसीपीएनडीटी प्रकोष्ठ का 104वां डिकाय आपरेशन, आयुर्वेद चिकित्सक सहित तीन दलाल गिरफ्तार

अर्थ न्यूज. जयपुर

राज्य पीसीपीएनडीटी प्रकोष्ठ राजस्थान के साथ सीमावर्ती राज्यों में भी भ्रूण परीक्षण में लिप्त अपराधियों पर लगातार शिकंजा कस रहा है। प्रकोष्ठ ने गुरूवार को गुजरात में 9वां सफल इंटरस्टेट डिकाय आपरेशन करते हुए भ्रूण लिंग परीक्षण के आरोप में मणिनगर अहमदाबाद निवासी 40 वर्षीय दलाल राजू, 39 वर्षीय आयुर्वेद चिकित्सक डॉ. गोरांग परीक एवं 40 वर्षीय मुकेश रावल को गिरफ्तार कर लिया है। उल्लेखनीय है कि राज्य पीसीपीएनडीटी प्रकोष्ठ की ओर से 30वां इंटरस्टेट सहित अब तक कुल 104 डिकाय आपरेशन संपादित किए जा चुके हैं।

ऐसे सफल हुआ ऑपरेशन

अध्यक्ष राज्य समुचित प्राधिकारी पीसीपीएनडीटी एवं मिशन निदेशक एनएचएम नवीन जैन ने बताया कि गत कुछ दिनों से सीमावर्ती क्षेत्रों की गर्भवती महिलाओं को अहमदाबाद व गुजरात ले जाकर भ्रूण लिंग परीक्षण करवाने की सूचना मिल रही थी। सूचना की पुष्टि करने के बाद डिकाय आपरेशन की रणनीति तैयार की गई।

उन्होंने बताया कि डिकाय गर्भवती महिला व सहयोगी को तय 25 हजार रुपए की डिकाय राशि लेकर दलाल राजू ने मुखबीर के माध्यम से खेरवाड़ा-विछीबाड़ा-हिम्मतनगर के रास्ते अहमदाबाद बुलाया। दलाल राजू अहमदाबाद के मणिनगर ईस्ट स्थित डॉ. योगी पाली क्लीनिक लेकर गया। वहां से क्लीनिक संचालक व आयुर्वेद चिकित्सक गोरांग ने अपने कम्पाउंडर मुकेश रावल के साथ डिकाय गर्भवती महिला को पार्थ सोनोग्राफी सेंटर भेजा। वहां सोनोलाजिस्ट ने सामान्य सोनोग्राफी कर डिकाय महिला को वापस भेज दिया।

इसके बाद दलाल मुकेश व राजू ने मनगढ़ंत तरीके से भ्रूण लिंग के बारे में जानकारी दी। इशारा मिलते ही डिकाय दल ने आरोपी आयुर्वेद चिकित्सक डॉ. गोरांग, दलाल राजू एवं कंपाउंडर मुकेश को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही हू-ब-हू की डिकाय राशि भी जब्त कर ली है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रघुवीर सिंह के नेतृत्व में गठित इस डिकाय कार्यवाही में सीआई श्रीराम, पूरणमल, कांस्टेबल विजयपाल, राजेन्द्र, प्रतापगढ़ के पीसीपीएनडीटी समंवयक संदीप शर्मा, उदयपुर की मनीषा भटनागर व राजसमंद के कपिल भारद्वाज शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Page generated in 0.715 seconds. Stats plugin by www.blog.ca