हर शिवरात्रि को इस मंदिर में बढ़ता है शिवलिंग, क्या है चमत्कार, जाने आप भी…

अर्थ न्यूज नेटवर्क


महाशिवरात्रि को लेकर शिव मंदिरों पर भक्तों का हुजूम उमड़ रहा है। लेकिन राज्य में एक जगह ऐसी भी जहां सालों से चले आ रहे एक चमत्कार ने भक्तों की श्रद्धा को और भी ज्यादा बढ़ा दिया है। जी हां, राजसमंद जिले के देवगढ़ मंदिर स्थित आंजनेश्वर महादेव मंदिर में यह चमत्कार अब कायम है। मंदिर में स्थापित शिवलिंग का आकार हर शिवरात्रि पर बढ़ता है। लेकिन आज तक इस चमत्कार को कोई समझ नहीं पाया है।

 

 

दरअसल, इस मंदिर में वर्तमान में करीब साढ़े तीन फीट ऊंचा शिवलिंग है। खास बात यह है कि यह शिवलिंग हर शिवरात्रि को गेहूं के दाने के आकार जितना बढ़ता है। यह सिलसिला पिछले कई सालों से चला आ रहा है। हालांकि इस रहस्य को आज तक को ई समझ नहीं पाया, लेकिन लोगों के बीच कई भ्रांतियां हैं। लोगों की मानें तो इस शिवलिंग के बढ़ते-बढ़ते जब यह ऊपरी चट्टान को छूने लगेगा तो धरती नष्ट हो जाएगी। कुछ लोग इस शिवलिंग के चट्टानी पत्थर से बने होने की बात भी कहते हैं, लेकिन फिलहाल, इसके बढऩे के कारण नहीं बता पाया है।

यहां नहीं सूखता कुण्ड का पानी

इस मंदिर के चमत्कारी शिवलिंग के अलावा एक और आश्चर्यजनक बात भी है। दरअसल, इस मंदिर के समीप ही ब्रह्मशील कुण्ड है। लोग बताते हैं कि इस कुण्ड का पानी अब तक किसी भी काल में नहीं सूखा है। यह मंदिर दो बड़ी चट्टानों के बीच स्थित है। ऊपरी हिस्से में काफी वजनी त्रिशूल स्थापित है जो संगमरमर से बनी हुई है। शिलालेख के अनुसार त्रिशूल की स्थापना संवत १८४७ मगसर विद भोम में हुई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Page generated in 0.701 seconds. Stats plugin by www.blog.ca