हाई अलर्ट पर सुरक्षा एजेंसियां, प्लेन हाईजैक रोकने की कवायद

नई दिल्ली. पीओके में भारतीय सेना की ओर से सर्जिकल स्ट्राइक के बाद देश में कहीं भी संभावित आतंकी हमले से निपटने के लिए सुरक्षा एजेंसियां सतर्क हो गई है। साथ ही प्लेन हाईजैक को रोकने के लिए एंटी हाईजैक ड्रिल्स का अभ्यास करने की तैयारियां शुरू कर दी है।
दरअसल, भारतीय सेना ने पीओके में जाकर आतंकियों के ठिकाने पर सर्जिकल स्ट्राइक कर आतंकियों को मार गिराया था। इसके बाद पाक सेना के साथ ही आतंकी संगठन बौखलाए हुए हैं। ऐसे में वे बदला लेने के लिए देश के प्रमुख प्रतिष्ठानों पर किसी तरह की आतंकी हरकत नहीं करें इसके लिए सुरक्षा एजेंसियां सतर्क हो गई है। राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) ने फिलहाल देश की सभी विमान कम्पनियों व चार्टर प्लेन ऑपरटर्स को प्रयोग में लाए जाने वाले एयरक्राफ्ट तैयार रखने के निर्देश दिए है। ताकि राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड के कमांडों की ओर से विमानों के डियाजन के अनुरूप एंटी हाइजैक ड्रिल्स का अभ्यास कराया जा सके। कमांडो की ओर से विमान के आतंरिक स्पैच, आपातकालीन निकासी सहित विभिन्न सुरक्षा सम्बंधित जानकारी लेंगे। इधर, एयरलायंस कम्पनियों ने विमान उपलब्ध कराने के साथ ही उन्हें नुकसान नहीं पहुंचाने की शर्त रखी है। क्योंकि कुछ साल पूर्व भी एंटी हाईजैक ड्रिल की गई थी, लेकिन इस दौरान विमानों के इंटीरियर को नुकसान पहुंचा था। इसके अलावा सुरक्षा एजेंसियां देश के प्रमुख प्रतिष्ठानों की सुरक्षा को लेकर भी चौकन्नी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Page generated in 0.688 seconds. Stats plugin by www.blog.ca