राजस्थान : सीएम राजे ने मोदी से मतभेदों का किया खारिज, और क्या-क्या कहा सीएम ने पढ़ें पूरी खबर

अर्थन्यूज नेटवर्क. जयपुर

राजस्थान में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की भाजपा सरकार को तीन साल पूरे होने पर वसुंधरा ने राजस्थान को देश में सबसे तेज विकास करने वाला राज्य बताया। उन्होंने कहा कि गुड गवर्नेंस के चलते डिजिटल इंडिया, स्किल डवलपमेंट और सोलर एनर्जी के मामले में राजस्थान देश में नंबर वन पर है।
वहीं राजे ने देश के प्रधानमंत्री मोदी से मतभेदों को नकारा तथा यूपी विधानसभा चुनाव के बाद राजस्थान में मुख्यमंत्री बदलने की बातों को सिरे से खारिज किया। उन्होंने यह साफ किया कि मुख्यमंत्री मैं ही रहुंगी और राजस्थान का अगला चुनाव भी मेरी अगुवाई में ही होगा।

यह कहा सीएम राजे ने…

एक साक्षात्कार में वसुंधरा राजे कहा कि ये सभी बातें गलत है कि मोदीजी यूपी चुनाव के बाद राजस्थान में मुख्यमंत्री बदलेंगे और मुझे दिल्ली बुला लेंगे। ये सारी अफवाहें है और मैं विपक्ष को कहना चाहुंगी कि मैं कहीं नहीं जा रही, बल्कि राजस्थान में ही रहुंगी। सीएम राजे ने साफ किया कि पिछले चुनावों में भी ऐसी ही बातें हुई थी। और राजस्थान में काम-काज को लेकर कोई बाहरी हस्तक्षेप नहीं हो रहा है।

जब पूछा गया कि केंद्र और राज्य में तालमेल नहीं है तो उसके जवाब में राजे ने कहा कि – मोदीजी से हमें पूरा सहयोग व मार्गदर्शन मिल रहा है। उनकी टीम इंडिया में टीम राजस्थान का मुख्य रोल है। उन्होंने कहा कि – प्रधानमंत्री जी ने सॉइल हेल्थ कार्ड जैसे अहम प्रोजेक्ट की लॉन्चिंग राजस्थान से की। मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान, वन महोत्सव, फिपिक समिट जैसे इंटरनेशनल इवेंट यहीं हुए है।

सीएम ने नोटबंदी के कदम और कैशलेस इकोनॉकी पर बात करते हुए कहा कि यह कालेधन पर तगड़ा प्रहार है। यह देश का एक ऐतिहासिक कदम है। वहीं डिजीटल के मामले में राजस्थान ने 2007 में भामाशाह योजना से शुरू कर दी थी। जब कांग्रेस सरकार आई तो यह योजना बंद हो गई, लेकिन जब 2013 में भाजपा की सरकार पुन: बनी तो इसे फिर से शुरू किया गया। उन्होंने कहा कि राजस्थान कैशलेस इकोनॉमी मामले में तेजी से उभर रहा है।

सीएम से जब पूछा गया कि सरकार गुड गवर्नेंस के वादे से सत्ता में आई लेकिन अभी तक फाइल ट्रेकिंग सिस्टम लागू नहीं किया गया है। इसके जवाब में राजे ने इसका गोलमाल जवाब दिया। उन्होंने बात को घूमाते हुए कहा कि राजस्थान कई क्षेत्रों में पहले नम्बर पर गुड गवर्नेंस के कारण है।

जल्द ही आगे बढ़ता नजर आएगा रिफाइनरी प्रोजेक्ट

सीएम राजे से जब पूछा गया कि रिफाइनरी का मामला अभी तक अटका हुए है, इसके लिए राज्य या केंद्र दोनों में से कौन जिम्मेदार है, तो इसके जवाब में राजे ने कहा कि रिफाइनरी एक ऐसी चीज है, जिसे जल्दबाजी करके नहीं लगा सकते। हम लोग नेगोशिएट कर रहे हैं। अभी दो-तीन दिन पहले ही पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान से इस विषय में बात हुई है। बेहद जल्द रिफाइनरी प्रोजेक्ट का मामला आगे बढ़ता नजर आएगा। जनता के फायदे को ध्यान में रखकर ही एमओयू होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Page generated in 0.838 seconds. Stats plugin by www.blog.ca