8 लाख की घोषणा कर भूल गए सांसद, 1 साल से इंतजार कर रहे ग्रामीण, ना सांसद आए न ही घोषणा हुई पूरी, जानिए क्या था मामला?

अर्थन्यूज नेटवर्क. जालोर

जनप्रतिनिधि कई बार लोगों के बीच वाह-वाही लूटने के लिए घोषणाएं तो कर देते हैं, लेकिन उसके बाद उस घोषणा को पूरी करने की तरफ कोई ध्यान नहीं देते हैं। भोली भाली जनता उस घोषणा का इंतजार तक करते रहते हैं और होता यह है कि ना तो वह जनप्रतिनिधि वहां जाता है और ना ही उसकी घोषणा पूरी होती है। ऐसा ही एक मामला सामने आया है जालोर-सिरोही सांसद देवजी पटेल का। जिसने एक गांव में जन सुनवाई के दौरान 8 लाख की लागत से आरआई लगाने की घोषणा तो कर दी थी, लेकिन एक साल बाद भी वह घोषणा पूरी नहीं हुई।

रेवत गांव में जन सुनवाई के दौरान की थी घोषणा

करीब एक साल पहले जालोर के निकटवर्ती रेवत ग्राम पंचायत में जन सुनवाई हुई थी। इस दौरान वहां मौजूद मौंक गांव के लोगों ने गांव में खारे पानी की समस्या से निजात दिलाने की अपील की थी। इस दौरान सांसद देवजी पटेल ने वाह-वाही लूटने के लिए तुरंत ही जलदाय विभाग के अधिकारियों से बात कर आरओ प्लांट लगाने के निर्देश दिए और सांसद मद से 8 लाख रुपए देेने की घोषणा की। इस घोषणा पर ग्रामीणों ने भी तालियां बजाकर सांसद को धन्यवाद दिया।

एक साल हो गया, ना सांसद दिखे न ही आरओ लगा

ग्रामीणों ने बताया कि उस जनसुनवाई को करीब एक साल हो गया है। घोषणा करके गए सांसद उसके बाद कभी गांव में नहीं आए। ना ही आरओ प्लांट लगाया गया है। ऐसे में उन्हें आज भी खारा पानी पीना पड़ रहा है। लोगों ने बताया कि एक साल से आरओ प्लांट का इंतजार कर रहे हैं। इस संबंध में जलदाय विभाग के अधिकारियों को भी मिले, लेकिन उन्होंने भी कोई जबाव नहीं दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Page generated in 0.743 seconds. Stats plugin by www.blog.ca