भीनमाल में लूट के चार आरोपी पकड़े गए, कई वारदातों का किया खुलासा

अर्थन्यूज नेटवर्क. भीनमाल

जालोर में चलाये जा रहे चैन स्नैचिंग व नकबजनी प्रकरणों के वांछित आरोपियों की गिरफ्तारी अभियान के तहत चैन स्नैचिंग, लूट व नकबजनी के प्रकरणों में वांछित आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए भीनमाल के मुख्य स्थानों व होटलों पर आने-जाने वाले सदिग्ध लोगों पर कई दिनों से निगरानी रखी जा रही थी।

इस दौरान भीनमाल निवासी दिलीप पुत्र दीनदयाल वैष्णव, इमरान उर्फ  पिन्टु पुत्र असगर खान, करड़ा निवासी देवाराम पुत्र मानाराम देवासी और मण्डवारिया (सिरोही) नरेन्द्र उर्फ  महेन्द्र पुत्र अनाराम की गतिविधिया संदिग्ध पाई गई। जिस पर इन चारों को दस्तयाब कर थाने लाकर गहन पूछताछ की गई। जिसमें चारों आरोपियों ने भीनमाल में तीन चैन स्नैचिंग की वारदात करना व दो लूट की वारदात का प्रयास करना कबूल किया।

इन मामलों को कबूला

  1.  25 अक्टूबर 2016 को हीरालाल जैन (माघ कोलोनी भीनमाल) के आंखो में मिर्ची डालकर लूटने का प्रयास किया।
  2.  20 अक्टूबर 2016 को बाबूलाल जैन (रावली सेरी भीनमाल) की भाभी के पांच तोला सोने की चैन लूट कर ले गए।
  3.  24 दिसम्बर 2016 को वचनाराम पुत्र अजाजी रेबारी (भीनमाल) को रिको एरीया में बाईक से नीचे गिराकर लूटने का प्रयास किया  गया।
  4.  2 जनवरी 2017 को मनोज गुप्ता (माघ कॉलोनी भीनमाल) की माता के तीन तोला सोने की चैन लूट कर ले गये।
  5.  18 जनवरी 2017 को मदनराज जैन (भीनमाल) की सास दरीयादेवी के ढेड तोला सोने की चैन लूट कर ले गए।

यभी भी पढ़ें ……महिला के गले से चैन उड़ाने के चक्कर में हो गई धुनाई

ऐसे देत थे वारदात को अन्जाम

मुख्य आरोपी दिलीप वैष्णव गेंग के सभी सदस्यों को क्षेमंकरी मन्दिर के पीछे तलहटी व बालसमन्द तालाब पाल भीनमाल बुलाकर शराब पीकर लूट की योजना बनाकर शाम को बाइक पर सवार होकर बुजुर्ग महिलाए, जिनके सोने की चैन पहनी होती थी, उनकी रैकी करते थे। अकेली होने पर इमरान उर्फ  पिन्टु मोटरसाईकिल शुरु करके गली के नुकड पर खड़ा रहता व गेंग के सदस्य वारदात को अन्जाम देकर इमरान की बाइक पर सवार होकर फरार हो जाते थे। वारदात को अंजाम देने के लिए प्रयुक्त की जाने वाली बाइक को भी पुलिस ने जब्त कर ली है।

पेट्रोल पंपों के मालिक को लूटने की थी योजना

गिरफ्तार मुख्य ओरोपी दिलीप व उसके साथियों ने पेट्रोल पम्पों के मालिकों के लूटने की योजना थी। उन्होंने पुलिस को बताया कि करडा महादेव पेट्रोल पंप के मालिक रवि अग्रवाल का पांच बार पीछा किया मगर इन्हें रोड पर सुनसान जगह पर लूटने का मौका नहीं मिला। रवि अग्रवाल के दो पेट्रोल पंप करड़ा में हैं। रवि अग्रवाल रोजाना शाम के समय दोनों पेट्रोल पंपों की दिन भर की राशि करडा से भीनमाल लेकर आने की जानकारी आरोपी देवाराम को थी। देवाराम ने यह योजना अपने साथियों के साथ साझा कर रवि अग्रवाल को लूटने की कोशिश में थे।

करडा थाने का हिस्ट्रीशीटर है आरोपी देवाराम

आरोपी देवाराम करड़ा थाने का हिस्ट्रीशीटर है। इसके विरुद्ध पूर्व में ६ नकबजनी व मारपीट के प्रकरण भीनमान व बागोडा में दर्ज है। सभी आरोपियों से गहन पूछताछ जारी है जिनसे ओर भी वारदातों का खुलासा होने सम्भावना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Page generated in 0.794 seconds. Stats plugin by www.blog.ca