जालोर : नरेगा के मस्टरोल में गड़बड़झाला, दो मेट ब्लैक लिस्टेड

जालोर. एमजीनरेगा कार्यों की प्रभावी मॉनिटरिंग के उद्देश्य से राज्य सरकार के निर्देश पर मंगलवार को जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जवाहर चौधरी ने जालोर पंचायत समिति की कई ग्राम पंचायत का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान मस्टरोल में गड़बड़ी मिलने पर दो मेट को ब्लैक लिस्टेड किया गया।
जानकारी के अनुसार मुख्य कार्यकारी अधिकारी जवाहर चौधरी ने मंगलवार को रेवत, बाकरा रोड, मडग़ांव, बासड़ाधनजी, तवाब, भरूड़ी, थूर एवं माण्डोली में चल रहे एमजीनरेगा कार्य एवं इन कार्यों के रिकॉर्ड का औचक निरीक्षण किया। जिसमें ग्राम पंचायत रेवत में खेल मैदान समतलीकरण कार्य के दौरान मौके पर मेट रमेश कुमार एवं मेट अशोक कुमार को ब्लैक लिस्टेड किया गया। ग्राम पंचायत बाकरारोड में रोजगार रजिस्टर एवं अप्रेल माह में जारी मस्टरोलो पर पंचायत समिति के कार्यक्रम अधिकारी, ग्रामसेवक, लेखा सहायकों के हस्ताक्षर का अभाव पाया गया। मस्टरोलों पर विकास अधिकारी,जेटीए नरेगा एवं ग्रामसेवकों की ओर से निरीक्षण नहीं करना पाया गया। ग्राम पंचायत मडगांव में रोजगार सहायक, ग्रामसेवक की ओर से कार्यस्थल पर निरीक्षण करना एवं मस्टरोलों पर हस्ताक्षर नहीं करना पाया गया। ग्राम पंचायत बासड़ाधनजी एवं थूर में ग्रामसेवक ग्राम पंचायत कार्यालय में अनुपस्थित मिला। साथ ही ग्राम पंचायत तवाब में ग्रामसेवक सांवलाराम सैन भी अनुपस्थित मिला। ग्राम पंचायत भरूड़ी एवं माण्डोली में कार्य के प्रति मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने संतोष जताया। एमजीनरेगा सहायक अभियंता रामलाल सुथार ने ग्राम पंचायत डूडसी एवं ग्राम पंचायत दीगांव के कार्य के निरीक्षण के दौरान डूडसी में मौके पर श्रमिक कम पाए गए। जिस पर मेट उत्तमसिंह को हटाया गया। ग्राम पंचायत दीगांव में छकडा वाला श्रमिक आज तक कार्यस्थल पर उपस्थित नहीं होने पर हटाया गए। निरीक्षण के दौरान अधिशाषी अभियंता हरिकृष्ण एवं जिला समन्वयक आईईसी वोराराम जीनगर साथ थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Page generated in 0.703 seconds. Stats plugin by www.blog.ca