भाजपा युवा मोर्चा के पदाधिकारी व सरपंच सहित तीन के खिलाफ पुलिस थाने में मामला दर्ज

अर्थन्यूज़ सायला

जालोर जिले की सायला ग्राम पंचायत के सरपंच व भाजपा युवा मोर्चा के जिला महामंत्री सुरेश कुमार राजपुरोहित व दो अन्य के खिलाफ बदमाशों के जरिए पुश्तैनी, पट्टा सुदा प्लॉट पर कब्जा करने की नियत से तोड़-फोड़ करने का मामला पुलिस थाना सायला में दर्ज हुआ है। बताते चले कि इस प्लॉट को लेकर पिछले लंबे समय से सरपंच सुरेश राजपुरोहित व प्लॉट मालिक कांतिलाल पुत्र पुखराज जैन के बीच विवाद चल रहा है। सरपंच इस प्लॉट को अतिक्रमण बताते हुए यहां से रास्ता निकालने के लिए राजनीतिक पहुंच लगाकर अपना पूरी ताकत लगा रहा है तो कांतिलाल इस प्लॉट को अपना पट्टा सुदा बताते हुए इसका विरोध कर रहा है, लेकिन इस छोटे से प्लॉट के पीछे की असली कहानी कुछ ओर ही सामने आ रही है।

Video :

सायला थाना में दर्ज हुआ मामला

प्रार्थी कांतिलाल पुत्र पुखराज जैन निवासी पुजा की सेरी ने बताया कि उसका पुश्तैनी, पट्टा सुदा प्लॉट ग्राम सायला की आबादी भूमि पुजा सेरी में है। आरोपी कांतिलाल पुत्र हिमताजी जैन सायला ने ग्राम पंचायत के सरपंच सुरेश कुमार राजपुरोहित पुत्र भंवरलाल राजपुरोहित से सांठगांठ कर उसके पुश्तैनी प्लॉट में से अवैध रूप से कब्जा बताकर गलत तरीके से रास्ता निकलवाया था। जिस पर उसने पुश्तैनी पट्टासुदा प्लॉट पर दीवार बनाकर लोहे की गेट पुन लगा दी थी। कांतिलाल पुत्र हिमताजी एवं सरपंच सुरेश कुमार राजपुरोहित ने कुछ अज्ञात लोगों द्वारा 14 अप्रैल को प्लॉट पर बनी हुई दीवारे व लोहे की गेट तुड़वा दिया था। जिसका सायला थाना में मुकदमा दर्ज करवाया गया है। इस प्लॉट की निगरानी के लिए लोहे की चद्दरों से एक टीनशेड बनाकर निवास आरंभ कर दिया था। 18 अप्रैल को अल सवेरे कांतिलाल पुत्र हिमताजी, सरपंच सुरेश कुमार राजपुरोहित व चंपालाल पुत्र वागमल जैन ने षडयंत्र रचकर बदमाश गैंग से संपर्क कर 6-7 लोगों को तैयार कर केवल पुजा की सेरी में रोड लाइट की सप्लाई बंद कर व पुजा की सेरी में इस प्लॉट के पास के घरों की बिजली सप्लाई बंद कर रहवासीय प्लॉट के आगे की दीवार को हथोड़ा, गेती व सरीये से तोड़ दी तथा लोहे का दरवाजा तोड़ दिया तथा सामान खुर्दबुर्द कर दिया। जिससे करीब 40 हजार का नुकसान हुआ।

बागोड़ा थानाधिकारी को दी जांच

पिछले लंबे समय से सरपंच व कांतिलाल के बीच इस प्लॉट को लेकर विवाद चल रहा है। ऐसे में पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा इस मामले को गंभीरता से ले रहे हैं। इसलिए ही तो सायला सरपंच के खिलाफ मामला दर्ज होने के बाद जांच सायला थानाधिकारी अरविंद पुरोहित से नहीं करवतो हुए बागोड़ा थानाधिकारी प्रेमसिंह पडियार को जांच सौंपी गई है।

आखिर यह है इस छोटे से प्लॉट के लिए उत्पन्न हुए विवाद का कारण

गौरतलब है कि गत दिनों सरपंच सुरेश राजपुरोहित ने पुजा की सेरी के इस प्लॉट को कब्जा बताते हुए जेसीबी लाकर पत्थर की पट्टियों को हटवाकर यहां से रास्ता निकलवाया था। जिसके बाद कांतिलाल ने दोबारा यहां दीवार निकालकर लोहे का गेट लगा दिया। कांतिलाल का कहना है कि ये उसका पुश्तेनी पट्टा सुदा प्लाट है, लेकिन सवाल यह कि आखिर इस प्लॉट को लेकर इतना घमासान क्यों मच रहा है तो बता दे कि इस प्लॉट के पीछे सायला के एक ठेकेदार और एक जैन ने आवासीय कॉलोनी काट रखी है। उस कॉलोनी के एक रास्ता दूसरी तरफ से है लेकिन यदि पूजा की सेरी से भी यदि इस प्लॉट को हटाकर रास्ता निकाल दे तो उस कॉलोनी में प्लॉट की कीमत दोगुनी हो जाएगी। इसलिए सरपंच इस प्लाट से रास्ता निकलवाने के लिए पूरी कोशिश कर रहा है। सूत्र तो यह भी बताते है कि सरपंच भी उस कॉलोनी में हिस्सेदार है।

आगे पढ़िये: इस मामले के हर पहलू का होगा खुलासा।
सत्ता के नशे में यह कैसी तानाशाही?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Page generated in 0.533 seconds. Stats plugin by www.blog.ca