सर्जिकल स्ट्राइक : नहीं मारते आतंकियों को, तो भारत के लिए बन जाते बड़ा खतरा

नई दिल्ली. भारतीय सेना की ओर से नियंत्रण रेखा के पार सर्जिकल स्ट्राइक कर आतंकियों को नहीं मार जाता तो यह आतंकी भारत के लिए बड़ा खतरा बन सकते थे। ये तालिबान की उसी कट्टर आतंकी फौज के लड़ाकू थे जो भारत में घुसपैठ करने के लिए बनाई गई थी।
सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तान सेना व सरकार की शह पर प्रशिक्षित किए गए तालिबान के कट्टर आतंकी लड़ाकू भारत में घुसपैठ की तैयारी में थे। लेकिन भारतीय खुफिया एजेंसियां आतंकियों की इन तमाम गतिविधियों पर नजर बनाए हुए थी। ये आतंकी आने वाले समय में भारत में घुसपैठ कर देश के कई हिस्सों में आतंकी फैलाने की रणनीति में थे। बेहद उच्च स्तर पर प्रशिक्षित ये आतंकी अगर घुसपैठ करते तो देश के लिए यह खतरा बन सकते थे। इसके तहत भारतीय सेना के विशेष कमांडो दस्ते ने पंूछ सेक्टर से नियंत्रण रेखा पार छिपे ठिकाने पर दबिश देकर आतंकियों को मार गिराया। ये आतंकी तालिबान की ओर से तैयार की गई आतंकी फौज के लड़ाकू थे। लेकिन खुफिया एजेंसियों को भनक लगने के बाद इन आतकियों को मार गिराया गया। इससे पहले भी एक साल के भीतर घुसपैठ की १६ कोशिशों को नाकाम किया जा चुका है, लेकिन सेना पठानकोठ, उधमपुर व उड़ी के आतंकी हमले के बाद ऐसी किसी भी कोशिश को होने से रोकने के लिए पूरी तरह मुस्तैद थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Page generated in 0.891 seconds. Stats plugin by www.blog.ca